Supercomputer kya hai in Hindi

आज कल जिस युग मे हम जी रहे है ये युग इनफार्मेशन एवं टेक्नोलॉजी का युग कहलाया जाता है। क्यूँकि आज कल हमारे हर सवाल का जवाब हमे कंप्यूटर के ज़रिये मिलजाता है। हम जो कंप्यूटर अपनी रोज़ मरा की जिंदगी मे इस्तेमाल कर रहे है, वह साधारण कंप्यूटर की गिनती मे आते है। और Supercomputer kya hai की बात करे तो वो बड़े बड़े काम को एक बार में बड़े आसानी से कर देते है।

वैसे क्या आप जानते है की कंप्यूटर कितने प्रकार के होते है? कंप्यूटर किस आधार पर बंटते है? अगर आप नहीं जानते और इस विषय मे रुचि रखते है तो आप बिलकुल सही जगह आये है, तो चलिए इस बारे मे विस्तार मे आपको समझाते हैं 

हम सब कंप्यूटर क्या है ये तो भली भांति जानते है। तो बात करते है की कंप्यूटर कितने प्रकार के होते है, पर कंप्यूटर के प्रकार निर्व्हार करता है की आप कंप्यूटर को किस आधार पर बांटना हैI कंप्यूटर को तीन भागों मे अलग अलग आधार पर बाटते है जैसे :

पहला होता है : कार्यप्रणाली 

दूसरा होता है : आकार

तीसरा होता है : उद्देश्य

कार्यप्रणाली के तहत कंप्यूटर को तीन भागो मे बाटा गया हैI

उद्देश्य के तहत कंप्यूटर को दो भागो मे बाटा गया है

तीसरा और आखरी है आकार इसमें कंप्यूटर को चार भागो मे बाटा गया है, जैसे एक माइक्रो, दूसरा मिनी, तीसरा होता है मेनफ़्रेम  और चोथा होता है सुपर कंप्यूटर।

आज आपको हम अपने इस आर्टिकल में super computer kya hai in hindi के बारे में सरे सवालों के जवाब देंगे।

सुपर कंप्यूटर क्या है? | supercomputer kya hai in hindi

सुपर कंप्यूटर को हिंदी मे महासंगणक कहा जाता है। यह कंप्यूटर एक ही समय मे अनगिनत काम करने की शमता रखता है। सुपर कंप्यूटर को उस जगह इस्तेमाल करते है जहा हमे बहुत ज़्यादा पॉवर और तेज़ गति के साथ बड़े बड़े समस्याओं को सोल्वे करने की आव्यशाकता होती है।

सुपर कंप्यूटर सामान्य कंप्यूटर की तरह सीरियल प्रोसेसिंग पर नहीं बल्कि पैरेलल प्रोसेसिंग पर काम करता है। सुपर कंप्यूटर एक सेकंड मे एक अरब calculation कर सकता है।

सुपर कंप्यूटर की गति की गणना फ्लॉप्स (flops) यानी फ्लोटइंग पॉइंट्स ऑपरेशन पर सेकंड मे की जाती है। एक सुपर कंप्यूटर दस, सो या हज़ार या होस्ट है की इससे भी ज़्यादा कंप्यूटर से मिल कर बना होता है।

supercompute kya hai

फ़िलहाल इसका इस्तेमाल साइंटिफिक और Engineering के लिए किया जाता है।

Super Computer के आकर की बात करे तो ये सामान्य कंप्यूटर काफी बड़ा होता है। इसमें बड़े बड़े equipment लगे होते है। और इनका इस्तेमाल सामन्य स्थानों पर नह किया जाता है।

इनमे सामन्य कम्प्यूटर के मुकाबले एक से अधिक CPU का इस्तेमाल किया जाता है। ताकि वो कोई भी दिए गए काम को जल्दी से जल्दी पूरा कर सके।

सुपर कंप्यूटर का आविष्कार

सुपर कंप्यूटर का आविष्कार बहुत सारे लोगो के योगदान से हुआ था पर इसका सबसे बड़ा श्रय्ह सीय्मोर क्रे को जाता हैI इन्हें सुपर कंप्यूटर का जनक भी कहा जासकता है।

भारत को अपना पहला सुपर कंप्यूटर सन 1991 मे मिला।

भारत के सुपर कंप्यूटर का नाम है:

  • प्रत्यय क्रे XC40
  • सहस्त्र क्रे XC40 भारत को अपना पहला सुपर कंप्यूटर सन 1991 मे मिला
  • प्रणाम युवा 2

सुपर कंप्यूटर के ऑपरेटिंग सिस्टम की बात की जाये तो अगर हम तब की बात करे जब सुपर कंप्यूटर की शुरुआत हुई थी तब ये सुपर कंप्यूटर यूनिक्स ओपेराटिंग सिस्टम पर काम करता था, पर अगर हम आज के ज़माने की बात करते है तो यही सुपर कंप्यूटर लिनक्स ओपेराटिंग सिस्टम पर काम करती है।

सुपर कंप्यूटर का उपयोग कहाँ किया जाता है?

सुपर कंप्यूटर का ज़्यादा तर इस्तेमाल वैज्ञानिक एवं इंजीनियरिंग एप्लीकेशन्स के लिए होता है ताकि बड़े बड़े डेटाबेस को बेहद आसानी से संभाला सकता हैI इसके साथ ही साथ मे यह अलग तरीके के  कंप्यूटर से जुड़े हुए ऑपरेशन कर सकता है।

सुपर कंप्यूटर का इस्तेमाल हम मौसम की भविष्यवाणी करने, जीन का संकलन करना, जलवायु अनुसंधान अतिवादी के लिए करते है।

सारांश

आज आपने जाना supercomputer kya hai और इसका उपयोग कहा किया जाता है। हम उम्मीद करते है की हमने आपके सरे सवालों के जबाब दे दिए होंगे। अगर आपका कोई सवाल हो तो आप निच्चे कमेंट सेक्शन में पूछ सकते है।

Leave a Comment